Prarthna mai tujse karoo O mere pyare masiha

प्रार्थना मै तुझसे करूं ओ मेरे प्यारे मसीहा
मेरा ये जीवन तेरे काम आये यही है मेरी तमन्ना

दिल की गहराई से स्तूति करूं, आराधना करूं
तन से और मन से पूरी शक्ति से
तूझसे मै प्रेम करूं
हे प्रभु येषू कितना प्यारा है तू
हे प्रभु येषू सबसे अच्छा है तू

तेरा चेहरा जो सबसे प्यारा
उसको मै हर पल ढूढूंगा
तेरे संग रहकर तूझमें खो जाउं
आत्मा से बढता जाउं
हे प्रभू …..

कितना मधूर है तेरा वचन
भर आते मेरे दोनों नयन
दुख जो सहा तूने मेरे कारण
भूलूंगा ना मै जीवन भर
हे प्रभू …..

Bhor ko jago Yeshu naam se

भोर को जागो यीषु नाम से
दिन गुजारो यीषु नाम से
सांझ को जब आखे बंद कर लू
तब भी लूं यीषु नाम मै 2

1 गर करने लगा उसके प्यार का
अपने मुख से मै बयां 2
कागज तो क्या स्याही भी
षब्द भी पड जायेगा कम
2 मसीहा के कोडे़ खाने से
मैने षिफा को पा लिया
उसके लहू के बह जाने से
नवजीवन को पा लिया
3 दया का वो सागर है गहरा
मै जयवंत हॅू न्याय पर
उसके प्रेम से भर जाता हॅू
और करता हॅू उसका भजन